6 अगस्त को राज्य सभा में उठाया जाएगा जनसंख्या नियंत्रण का मुद्दा: अनिल अग्रवाल

गाजियाबाद :- राज्यसभा सदस्य व जनसंख्या समाधान फाउंडेशन के संरक्षण अनिल अग्रवाल ने कहा कि इस समय देश में बढ़ती आबादी राष्ट्रव्यापी विकास में सबसे बड़ा रोड़ा है। अविलंब जनसंख्या पर नियंत्रण होना बहुत जरुरी है, अन्यथा हालात बद से बदतर होते देर न लगेगी। सांसद ने दावा किया कि वे 6 अगस्त को राज्यसभा में जनसंख्या नियंत्रण संबंधी मुद्दे को पूरे दमखम के साथ उठाएं।
शनिवार को गाजियाबाद कलेक्ट्रेट मीडिया सेंटर पर पत्रकारों से वार्ता के दौरान जनसंख्या समाधान फाउंडेशन के राष्ट्रीय संरक्षक व राज्यसभा सांसद अनिल अग्रवाल ने कहा कि भारत में विश्व की कुल आबादी की 18 प्रतिशत आबादी  निवास करती है, जबकि हमारे पास महज 4% जल व भारत का  क्षेत्रफल  दुनिया के क्षेत्रफल की मात्र 2.4% भूमि है। ऐसी स्थिति में तेजी से बढ़ती जनसंख्या से देश में हर तरफ़ भीड़ ही भीड़ है और बढ़ती आबादी से शुद्व हवा-पानी,जैसी मूलभूत प्राकृतिक संसाधनों तक की कमी हो रही है। सांसद ने उम्मीद जताई कि आगामी 15 अगस्त की लाल किले के प्राचीर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी राष्ट्र को अपने संबोधन में जनसंख्या नियंत्रण नीति का जिक्र कर सकते हैं।
जनसंख्या समाधान फाउंडेशन की राष्ट्रीय अध्यक्ष सावित्री चौधरी ने कहा कि फाउंडेशन के राष्ट्रीय संरक्षक अनिल अग्रवाल ही राज्य सभा मे 2 बच्चा नीति पर राज्यसभा में प्राइवेट मेंबर बिल लाए हैं, जिस पर अब 6 अगस्त को संसद में चर्चा प्रस्तावित है। उन्होंने उम्मीद जताई कि उत्तर प्रदेश सरकार भी इस मामले पर जल्द ही विधान सभा में विधेयक पास करके जनसंख्या नियंत्रण की दिशा में बड़ा कदम उठाएगी।
प्रेस वार्ता में  जनसंख्या समाधान फाउंडेशन के हरियाणा प्रदेश अध्यक्ष बलबीर सिंह हुड्डा, राष्ट्रीय सचिव महेंद्र सिंह, राष्ट्रीय सलाहकार प्रोफ़ेसर दीपक कुमार शर्मा, रेखा शर्मा ने भी अपने विचार रखे।