आंगनबाडी रैली के लिए वीडियो कांफ्रेंस

आंगनवाड़ी के शोषण व अल्प मानदेय की वजह से उत्तर प्रदेश के विशालकाय राज्य की रीढ़ आंगनवाड़ी! देश की मुख्यधारा से नहीं जुड़ सकी ,इसलिए आंगनबाड़ी को राज्य कर्मचारी का दर्जा देना देश की पहली आवश्यकता- सावित्री चौधरी
(वर्तमान सरकार का अनुपूरक बजट एक जुमला उसका आदेश जारी कर पटल पर लाया जाए)
वर्चुअल बैठक आयोजित आनलाईन बैठक में 75 जिलों की आंगनवाड़ी अधिकार यात्रा से जुड़े सैकड़ों कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए आंगनवाड़ी अधिकार यात्रा की संयोजक सावित्री चौधरी ने कहा कि सभी आँगनवाड़ी बहनों को उनके मौलिक अधिकार मिलने चाहिये। ये कर्मचारी, सरकार की नीतियों को सजग प्रहरी की तरह ग्राउंड लेवल तक पहुंचाती है।
सत्यता यह है कि ये कर्मचारी सत्ता के साथ सच्चे सिपाही की तरह कार्य करती हैं। इनको अन्य कर्मचारियों की तरह ही सभी मूलभूत अधिकार मिलने चाहिये।इनको सुविधाओं से वंचित रखना रास्ट्रहित में बिल्कुल उचित नहीं है।जहां तक वर्तमान उत्तरप्रदेश सरकार की बात है, निश्चिरूप से माननीय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के नेतृत्व में बहुत कार्य जनहित हुए हैं।
वर्तमान सरकार से सभी आंगनवाडी बहनों के माध्यम से मैं सावित्री चौधरी JSF संस्थापक एवम JSF राष्ट्रीय अध्यक्ष सरकार से गुजारिश करती हूँ, आंगनबाड़ियों को अन्य कर्मचारियों की तरह सरकारी कर्मचारी का दर्जा एवम अन्य उपरोक्त सुविधाएं तुंरत प्रभाव से लागू करें ,ताकि ये कर्मचारी भी अन्य कर्मचारियों की तरह ही एक सम्मानजनक जीवन जी सकें ,एवम अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा दे सकें।
सावित्री चौधरी के नेतृत्व में 2अक्टूबर2021 को विशाल आंगनवाड़ी अधिकार यात्रा जोकि रास्ट्रीय राजधानी दिल्ली एनसीआर के जिला बुलंदशहर से शुरू होकर लखनऊ पहुंचेगी।
वैसे वर्तमान सरकार के द्वारा बहुत कार्य जनहित में हुए हैं उत्तरप्रदेश एक विशाल प्रदेश है। इस प्रदेश की जनसंख्या करीब 24 करोड़ है जो दुनिया के अधिकतम देशों से ज्यादा भारतवर्ष के इस अकेले राज्य की आबादी है। यह बहुत ही सोचने की बात है कि जिस प्रदेश का क्षेत्रफल जनसंख्या की तुलना में बहुत कम है
मगर एक हर्ष का विषय भी है कि उत्तरप्रदेश के यशस्वी माननीय मुख्यमन्त्री जी ने अपने राज्य में एक सुदृड़ जनसंख्या नीति अनुरूप एक सशक्त जनसंख्या नियंत्रण लागू करने की पहल की है जो आंगनवाड़ी का मूल कर्तव्य है। मैं सावित्री चौधरी रास्ट्रीय अध्यक्ष जनसंख्या समाधान फाउंडेशन( रजि●) के सौजन्य से कार्य कर रही हूँ, जनसंख्या नीति,रास्ट्रीय नीति को माननीय राज्यसभा सांसद अनिल अग्रवाल जी जनसंख्या समाधान फाउंडेशन के संरक्षक जी के दिशानिर्देशन एवम मार्गदर्शन को भुलाया नहीं जा सकता।
उन्होंने सदैव jsf यौद्धाओं का मनोबल बढ़ाया है।
अब हम यशस्वी एवम परमादर योगिआदित्यनाथ जी ,मुख्यमंत्री उत्तरप्रदेश से प्रार्थना करते हैं, कि इन आंगनवाड़ी बहनों के दुखदर्द को समझें । ये बहने रास्ट्र की रीढ़ है छोटे बच्चों को प्राथमिक टीचर की तरह एवम राष्ट्रहित में सरकार के अभिन्न अंग की तरह कार्य करती हैं।
सरकार आंगनबाड़ी की मांगो को स्वीकृति प्रदान करें ताकि उत्तर प्रदेश विशाल राज्य की रीढ़ जीवन की मुख्य धारा से जुड़ सके